Spread the love

2021 नया वर्ष .

 

2021 नया वर्ष  पूरे विश्व में नया साल अलग-अलग दिन मनाया जाता है, और भारत के विभिन्न क्षेत्रों में भी नए साल की शुरूआत अलग-अलग समय होती है। मगर अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार 1 जनवरी से नए साल की शुरूआत मानी जाती है। क्यूकी 31 दिसंबर को एक वर्ष का अंत होने के बाद 1 जनवरी से नए अंग्रेजी कैलेंडर वर्ष की शुरूआत होती है। इसलिए इस दिन को पूरी दुनिया में नया साल शुरू होने के उपलक्ष्य में पर्व की तरह मनाया जाता है।नया साल पुरानी चीज़ों/बातो को पीछे छोड़कर एक नयी शुरुआत करने का वक्त होता है। भारत में रहने वाले हर धर्म के लोगो के द्वारा नए साल पर तैयारियां की जाती है।

 

2021 नया वर्ष  कब से शुरू है?

 

नए वर्ष का जश्न 31 दिसंबर की रात से ही शुरू हो जाता है। शुभकामनायें, गिफ्ट,ग्रीटिंग कार्ड, का आदान-प्रदान शुरू हो जाता है। समूहों में इकट्ठा होकर लोग नए साल का जश्न मनानाते हैं। नया साल हमेशा हम सब को आगे बढ़ते रहने की सीख देता है।

 

2021 नए वर्ष पे लोग अक्सर क्या करते हैं?

 

नए वर्ष में लोग नए जोश के साथ नयी चीज़ों की शुरुआत करते है। कई लोग पिकनिक पर जाते हैं,तोह कोई घर पे ही जश्न मानते है।कुछ बाहर जाते है तोह कुछ अपने परिवार के साथ ख़ुशी के कुछ पल बिताते हैं। बच्चों में तो नए साल का उहलास देखते ही बनता है। इस अवसर पर कई स्थानों पर पार्टी का आयोजन करने मै आता है।बड़े बड़े लोग अपने परिवार, दोस्त , स्टाफ मेंबर आदि के लिए पार्टी रखते है। लोग नाचते गाते हैं और लज़ीज़ व्यंजनों के साथ मज़ेदार खेलों का भी आयोजन करते हैं। नए साल की शुरुआत सभी लोग अपने अपने हिसाब से ख़ुशी ख़ुशी करते हैं। इन सब समारोहों का आयोजन बीते हुए साल को हँसते हँसते विदा करने और नए साल का स्वागत करने के लिए किया जाता है।

 

2021 नए वर्ष बड़े शेरों में कैसे मनाया जाता है?

 

यदि बड़े – बड़े शहरों की बात करे जैसे मुंबई , राजधानी दिल्ली , बैंगलोर और चेन्नई की बात करें तो यहां पर बड़े लाइव कॉन्सर्ट (बड़े मैदान मै नाच गाना हो है)किये जाते हैं। जिनमें बॉलीवुड के कई सितारे और मशहूर लोग इकट्ठे होकर नए साल का स्वागत करते हैं। कई अपनी अदाओं से बॉलीवुड के सितारें लोगों का मनोरंजन भी करते हैं.

इन कार्यक्रमों का आनंद बड़ी तदाद में लोग आते हैं और यहां पर पास लेना होता है जिसकी इंट्री फीस भी बहुत महंगी रखी जाती है। लेकिन वहीं भारत में कुछ लोग हैं जो अपने परिवार और अपने करीबी दोस्‍तों के साथ घर में मिलकर पार्टी करते हैं या फिर सब के साथ कही बाहर घूमने जाते हैं।

 

2021 से क्या उम्मीद कर सकते है?

 

यह तो बात हुई पार्टी की कहां और कैसे की जाती है। मगर नए साल के खास मौके पर मंदिरों की भी सजावत करी जाती है। साथ ही कई जगहों में हवन, पूजा-पाठ किया जाता है ताकि पूरा साल भगवान के अर्शीवाद के साथ बीते। कई ऐसे लोग हैं जो नए साल के मौके पर सबसे पहले मंदिर. 

 

 

2021 नया वर्ष में क्या है सबसे ज़रूरी?

 

जो बीत गई उसकी क्या बात करनी मगर जो बीत रही है उसे कैसे कोई अनदेखा करे। 2021 मै ऐसा काल मनुष्य जीवन में पहली बार ही आया होगा। “कोरॉना ” महामारी ने पूरे देश विदेश में हा है कर मचा रखी है । हर व्यक्ति दुख मै डूबा है और दरा दारा घूमता है । अब तक सारे टीहिआर फिके कर दिए । सभी लॉकडाउन मै बांध , सामाजिक दूरी रखे मस्क पहने ,हात धोए इत्यादि ।ऐसे समय में पार्टी करना लगभग मुश्किल होगा। ९ महीने बाद धीरे धीरे लोग फिर से अपने काम पर जाने लगे है अपनी पूरी सर्क्षा के साथ।जब तक इस रोग की वेक्सिन नहीं आती हमे ऐसा ही चलना होगा।

 

“दो गज दूरी

मस्क है जरूरी”

 

2021  कैसे उमीद की किरणे ला सकता है?

 

हर साल आता है और हर साल चला जाता है| पर सोचने की बात ये है की हमने हर साल क्या नया किया है| वर्ष प्रतिपदा का महत्व जानना बहुत जरुरी है| जिंदगी में बहुत सारे उतार चढ़ाव आते हैं| जरुरी नहीं है की हर साल हर किसी के लिए अच्छा जाए या हर साल किसी के लिए बुरा जाए| पर इसका मतलब ये बिलकुल भी नहीं है की हम अपने बीते साल को भूल जाएँ| भूलना है तो बस बीते साल की अपनी दुःख और दर्द को|

 

 

 

नई वर्ष पे पंक्ति

 

नया साल, नई उम्मीदें,

नई आशाएं, नए संकल्प,

न्यू ईयर की ढेर सारी शुभकामनाएं।।

हैपी न्यू ईयर 2021